Overloading In Tractors – ओवरलोड ट्रक और ट्रैक्टर-ट्रॉली पर नहीं लगी लगाम, खुलेआम दौड़ रहे वाहन

पुवायां में दरोगा, सिपाही के सामने गुजरता ओवरलोड गन्ने का ट्रक

पुवायां। मिर्जापुर में गन्ने से भरा ट्रक पलटने से दो महिलाओं की मौत के बाद पुवायां के एसडीएम सुशांत श्रीवास्तव ने चीनी मिलों के प्रबंधकों को पत्र जारी कर ठेकेदारों को चेतावनी देने और ओवरलोड ट्रकों के चलने पर कार्रवाई का पत्र जारी किया था, लेकिन मिलों के प्रबंधकों और ठेकेदारों ने निर्देशों पर कोई अमल नहीं किया है। गन्ने से भरे ओवरलोड ट्रक खुलेआम चल रहे हैं।
एसडीएम सुशांत श्रीवास्तव ने नौ दिसंबर को किसान सहकारी चीनी मिल पुवायां, बजाज चीनी मिल मकसूदापुर, डालमियां चीनी मिल गिरगिचा के प्रबंधकों को पत्र लिखकर मिल के ठेकेदारों से गन्ना की ओवरलोडिंग से बाज आने को कहा था। पत्र में कहा कि चीनी मिलों से संबद्ध गन्ना केंद्रों से ओवरलोड ट्रक और ट्रैक्टर ट्राली संचालित हो रहे हैं।
आठ दिसंबर को मिर्जापुर क्षेत्र में गन्ने से भरा ट्रक पलटने से दो महिलाओं की मौत हो गई है। प्रबंधक अपने मिल के ठेकेदारों को निर्देशित कर दें कि गन्ने की ओवरलोडिंग से बाज आएं, अन्यथा स्थित में जन सामान्य की सुरक्षा को देखते हुए एमवी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। एसडीएम के पत्र के बाद भी ओवरलोडिंग जारी है। पुवायां के राजीव चौक पर दरोगा और सिपाहियों के सामने ही ओवरलोड ट्रक निकलते हैं, लेकिन हेलमेट नहीं लगाने पर चालान काटने वाले पुलिसकर्मी ओवरलोड गन्ना ट्रकों की ओर देखने तक की जरूरत नहीं समझते हैं। ऐसे में कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।
बिजली के तारों से टकरा जाता है गन्ना
गन्ने को ट्रकों में काफी ऊंचाई कर भर दिया जाता है। ऐसे में कई बार गन्ना बिजली के तारों से टकरा जाता है और बिजली सप्लाई ठप हो जाती है। यदि गन्ना हाईटेंशन लाइन के तारों से टकरा गया तो बड़ा हादसा होते देर नहीं लगेगी। कई उपभोक्ताओं की केबिल भी गन्ने में फंसकर टूट जाती है और लोगों को फिर से नई केबिल डलवानी पड़ती है, लेकिन जिम्मेदार इस ओर ध्यान देने की जरूरत नहीं समझते हैं।
पत्राचार किया गया था, इसके बाद भी सुधार नहीं हुआ है और गन्ने के ओवरलोड ट्रक चल रहे हैं और जांच कर कार्रवाई की जाएगी। ओवरलोड और ओवरहाइट ट्रकों पर अंकुश लगाया जाएगा।
सुशांत श्रीवास्तव, एसडीएम पुवायां

पुवायां में  सिपाही के सामने से गुजरता ओवरलोड गन्ने का ट्रक

पुवायां में सिपाही के सामने से गुजरता ओवरलोड गन्ने का ट्रक- फोटो : POWAYAN

पुवायां। मिर्जापुर में गन्ने से भरा ट्रक पलटने से दो महिलाओं की मौत के बाद पुवायां के एसडीएम सुशांत श्रीवास्तव ने चीनी मिलों के प्रबंधकों को पत्र जारी कर ठेकेदारों को चेतावनी देने और ओवरलोड ट्रकों के चलने पर कार्रवाई का पत्र जारी किया था, लेकिन मिलों के प्रबंधकों और ठेकेदारों ने निर्देशों पर कोई अमल नहीं किया है। गन्ने से भरे ओवरलोड ट्रक खुलेआम चल रहे हैं।

एसडीएम सुशांत श्रीवास्तव ने नौ दिसंबर को किसान सहकारी चीनी मिल पुवायां, बजाज चीनी मिल मकसूदापुर, डालमियां चीनी मिल गिरगिचा के प्रबंधकों को पत्र लिखकर मिल के ठेकेदारों से गन्ना की ओवरलोडिंग से बाज आने को कहा था। पत्र में कहा कि चीनी मिलों से संबद्ध गन्ना केंद्रों से ओवरलोड ट्रक और ट्रैक्टर ट्राली संचालित हो रहे हैं।

आठ दिसंबर को मिर्जापुर क्षेत्र में गन्ने से भरा ट्रक पलटने से दो महिलाओं की मौत हो गई है। प्रबंधक अपने मिल के ठेकेदारों को निर्देशित कर दें कि गन्ने की ओवरलोडिंग से बाज आएं, अन्यथा स्थित में जन सामान्य की सुरक्षा को देखते हुए एमवी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। एसडीएम के पत्र के बाद भी ओवरलोडिंग जारी है। पुवायां के राजीव चौक पर दरोगा और सिपाहियों के सामने ही ओवरलोड ट्रक निकलते हैं, लेकिन हेलमेट नहीं लगाने पर चालान काटने वाले पुलिसकर्मी ओवरलोड गन्ना ट्रकों की ओर देखने तक की जरूरत नहीं समझते हैं। ऐसे में कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

बिजली के तारों से टकरा जाता है गन्ना

गन्ने को ट्रकों में काफी ऊंचाई कर भर दिया जाता है। ऐसे में कई बार गन्ना बिजली के तारों से टकरा जाता है और बिजली सप्लाई ठप हो जाती है। यदि गन्ना हाईटेंशन लाइन के तारों से टकरा गया तो बड़ा हादसा होते देर नहीं लगेगी। कई उपभोक्ताओं की केबिल भी गन्ने में फंसकर टूट जाती है और लोगों को फिर से नई केबिल डलवानी पड़ती है, लेकिन जिम्मेदार इस ओर ध्यान देने की जरूरत नहीं समझते हैं।

पत्राचार किया गया था, इसके बाद भी सुधार नहीं हुआ है और गन्ने के ओवरलोड ट्रक चल रहे हैं और जांच कर कार्रवाई की जाएगी। ओवरलोड और ओवरहाइट ट्रकों पर अंकुश लगाया जाएगा।

सुशांत श्रीवास्तव, एसडीएम पुवायां

पुवायां में  सिपाही के सामने से गुजरता ओवरलोड गन्ने का ट्रक

पुवायां में सिपाही के सामने से गुजरता ओवरलोड गन्ने का ट्रक- फोटो : POWAYAN

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *