हरियाणा सरकार खरीदेगी 500 नई बसें रोडवेज कर्मचारियों को मिलेगा 3 साल का बोनस

रिपोर्ट – मनोज कुमार

चंडीगढ़. हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि परिवहन विभाग को निरंतर मजबूत करने के साथ-साथ जनता की सेवा के उद्देश्य से इसे और अधिक पारदर्शी भी बनाया जा रहा है. रोडवेज यूनियन भी अगर विभाग को मजबूत बनाने में आगे आएंगी और सहयोग करेंगी, तो निःसंदेह विभाग लोगों को अच्छी यातायात सेवा की देने में और अधिक समर्थ बनेगा. रोडवेज विभाग को मजबूत बनाने के लिए अभी हाल ही में 809 रोडवेज बसों की खरीद की गई है तथा आने वाले समय में 500 और नई बसें खरीदी जाएंगी.

परिवहन मंत्री ने यह बात हरियाणा परिवहन विभाग से संबंधित विभिन्न कर्मचारी यूनियनों के पदाधिकारियों के साथ हरियाणा निवास में आयोजित बैठक के दौरान कही. उन्होंने बैठक में कर्मचारी यूनियनों के पदाधिकारियों द्वारा रखी गई मांगों को सहानुभूतिपूर्वक सुना और उनका जल्द समाधान करने का आश्वसान दिया. उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग निरंतर कर्मचारियों के हित में फैसले ले रहा है. प्रदेश सरकार ने कर्मचारियों के हित में ऐसे फैसले लिए हैं, जो पिछले 40 वर्षों में नहीं लिए गए.

कर्मचारियों को मिलेगा पिछले वर्षों का बोनस

इसी कड़ी में अब कर्मचारियों को पिछले वर्षों का बोनस दिया जाएगा. साथ ही, उनकी वर्दी की मांग को भी जल्द पूरा करने के लिए अधिकरियों को निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि विभाग में पिछले दिनों 2500 से अधिक कर्मचारियों को पदोन्नति का लाभ दिया जा चुका है. मूलचंद शर्मा ने कहा कि कर्मचारी यूनियनों की समय-समय पर अधिकतर मांगों को पूरा किया जाता रहा है तथा यूनियनों की ओर से आने वाले सुझावों पर भी सकारात्मक रूप से विचार-विमर्श कर उन्हें लागू किया जाता है.

“भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा”

कर्मचारी परिवहन विभाग की रीढ़ हैं और विभाग को उनके हित में फैसले लेने में कोई संकोच भी नहीं है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की जीरो टॉलरेंस नीति के अनुसार विभाग में भ्रष्टाचार की संभावनाओं पर लगाम लगाने के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि उनके रहते विभाग में किसी भी स्तर पर भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. विभाग का काम जनभावनाओं के अनुरूप जनता को अच्छी व पारदर्शी सेवाएं देना है.

परिवहन विभाग का निजीकरण नहीं

उन्होंने यूनियन के सभी पदाधिकारियों का आह्वान किया कि वे इस बात को मन से निकाल दें कि विभाग को निजीकरण की ओर ले जाया जा रहा है, बल्कि विभाग में निरंतर नई भर्ती करने व नई बसें खरीदकर विभाग को और अधिक मजबूत बनाया जा रहा है.

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *