वाराणसी में बाप-बेटे की पीट-पीटकर हत्या:गाली देने से मना करने पर लकड़ी के पटरे से हमला करके मार डाला, पड़ोसी युवक अरेस्ट

वाराणसी में पिता-पुत्र की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। वारदात में पुलिस ने पड़ोस में रहने वाले एक युवक को अरेस्ट किया है। बताया जा रहा है कि आरोपी युवक रात को शराब के नशे में था। वह पिता-पुत्र से गाली-गलौज कर रहा था। मना करने पर दोनों की लकड़ी के पटरे से पीट-पीटकर हत्या कर दी।

आसपास के लोगों की सूचना पर सोमवार सुबह फॉरेंसिक एक्सपर्ट के साथ पुलिस पहुंची। पीड़ित परिवार की शिकायत पर पड़ोस के एक युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस टीम उससे पूछताछ कर रही हैं।

शमशेर (बाएं) और उसका पिता मोहम्मद जलालुद्दीन (दाएं) की हत्या की गई है।- फाइल फोटो

शमशेर (बाएं) और उसका पिता मोहम्मद जलालुद्दीन (दाएं) की हत्या की गई है।- फाइल फोटो

सोते समय शुरू की थी गाली-गलौज
लालपुर पांडेयपुर थाना अंतर्गत सोयेपुर गांव निवासी मोहम्मद जलालुद्दीन (65) फेरी लगाकर सामान बेचते थे। जलालुद्दीन के 5 बेटों और 2 बेटियों में सबसे बड़ा शमशेर (45) उनके काम में सहयोग करता था। जलालुद्दीन के बेटे जावेद ने बताया कि रविवार रात उसके पिता और भाई घर के सामने भतीजे आर्यन और भतीजी जन्नत के साथ सोए हुए थे। आधी रात बाद शराब पीकर पड़ोस का दशमी राजभर आया। उसने जलालुद्दीन और शमशेर को देखकर गाली-गलौज शुरू कर दी।

वाराणसी के सोयेपुर गांव में पिता-पुत्र की हत्या के बाद दोनों का शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है।

वाराणसी के सोयेपुर गांव में पिता-पुत्र की हत्या के बाद दोनों का शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है।

शमशेर ने गाली-गलौज से मना किया तो दशमी ने पास ही पड़े लकड़ी के पटरे को उठा लिया और दोनों के सिर पर ताबड़तोड़ वार करने लगा। बेटे पर हमला होते देख पिता जलालुद्दीन बीच-बचाव करने आए तो उनके सिर पर भी पटरे से वार किया। हमले में गंभीर रूप से घायल पिता-पुत्र बेहोश हो गए। आर्यन और जन्नत के शोर मचाने पर घर के लोग भाग कर आए और आनन-फानन दोनों को राजकीय अस्पताल ले गए। वहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

पहले भी करता रहता था गाली-गलौज
जावेद ने बताया कि दशमी राजभर पहले भी शराब पीकर अक्सर गाली-गलौज करता रहता था। उसका काम ही यही है कि शराब-गांजा पीकर वह क्षेत्र में लोगों से पैसा छीन लेता है और बिना किसी वजह ही मारपीट करने के साथ ही सबको परेशान करता है।

पिता-पुत्र की हत्या के बाद सोयेपुर गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। पुलिस की पूछताछ के डर से ज्यादातर लोग बाहर नहीं निकले हैं।

पिता-पुत्र की हत्या के बाद सोयेपुर गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। पुलिस की पूछताछ के डर से ज्यादातर लोग बाहर नहीं निकले हैं।

शराब के नशे में ही उसने हमारे पिता और भाई की जान ले ली। हत्या के बाद उसके परिवार वाले पैसे देकर मामले को मैनेज करने की बात कर रहे थे और दशमी घर से भाग गया था। पुलिस को सूचना दी गई तो वह क्षेत्र से ही पकड़ा गया।

वहीं, वारदात के बाद शमशेर की पत्नी शीलू, 3 बेटों और 1 बेटी का रो-रोकर बुरा हाल था। परिजन बड़ी ही मुश्किल से उन्हें संभाले हुए थे। इस संबंध में पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। वारदात में इस्तेमाल लकड़ी का पटरा भी बरामद कर लिया गया। उसके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजा जाएगा। पिता-पुत्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है।

Source Link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *