भाई ने जेल से तेरी हटा का फरमान भेजा है गाजियाबाद के कारोबारी से मांगे 60 लाख रुपये की रंगदारी

गाजियाबाद के कारोबारी को चिट्ठी भेजकर 60 लाख रुपये की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। चिट्ठी में लिखा है कि भाई ने जेल से तेरी हत्या का फरमान भेजा है। जान बख्शने की कीमत 60 लाख रुपये है। कारोबारी ने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई है। पुलिस का कहना है कि कारोबारी की तहरीर पर रंगदारी का केस दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी गई है।

कविनगर थानाक्षेत्र के शाहपुर बम्हैटा निवासी ज्ञानेंद्र यादव कंप्यूटर असेंबलिंग का कारोबार करते हैं तथा ऑनलाइन परीक्षा के लिए लैब तैयार करते हैं। उनका कहना है कि 13 मई को उनके पास एक स्पीड पोस्ट आई। लिफाफा खोलकर देखा तो उसमें धमकी भरी चिट्ठी थी, जिसमें लिखा है कि यह रकम जान बख्शने की कीमत है। तुझे पहले भी समझाया था, लेकिन तू नहीं समझा। तेरा नसीब अच्छा है, इसी वजह से आज तक जिंदा है।

चिट्ठी में लिखा है कि 20 मई तक जयपुर के होटल पिचौला में रकम लेकर पहुंच जाना। हम तुझे मौत के चंगुल से आजाद कर देंगे। होटल पहुंचने पर हमारे आदमी संपर्क करेंगे। अगर ज्यादा चालाकी करने की कोशिश की तो उसका अंजाम मौत होगा।

संबंधित खबरें

तीन साल पहले भी मिली थी धमकी

कारोबारी का कहना है कि उन्हें तीन साल पहले भी ऐसे ही धमकी मिली थी। पुलिस ने केस भी दर्ज कर लिया था, लेकिन बदमाशों को नहीं पकड़ सकी। इस बार बदमाशों ने कहा है कि उस वक्त वह किसी और काम में व्यस्त हो गए थे, इसलिए वह बच गया, लेकिन अब नहीं बच सकेगा।

धमकी भरी चिट्ठी मिलने पर कारोबारी ने कविनगर थाने में तहरीर दी। एसपी सिटी निपुण अग्रवाल का कहना है कि केस दर्ज कर लिया गया है। चिट्ठी कहां से पोस्ट की गई, यह पता लगाकर वहां छानबीन की जाएगी।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *