धूल भरी आंधी से विद्युतापूर्ति हुई ठप, गर्मी से मिली राहत

धूल भरी आंधी से विद्युत आपूूर्ति हुई ठप, गर्मी से मिली राहत

-मिलक, बिलासपुर और स्वार में भी आई आंधी
रामपुर। सोमवार को रात में आई आंधी ने शहर समेत स्वार और मिलक क्षेत्र की विद्युतापूर्ति ठप कर डाली। तेज धूल भरी आंधी चलने से लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिल पाई है। लेकिन, जगह-जगह हुए फॉल्ट के चलते शहर व ग्रामीण क्षेत्रों की बिजली आपूर्ति ठप हो गई।
पिछले दो दिन से पड़ रही भीषण गर्मी के बाद सोमवार की रात करीब साढ़े आठ बजे अचानक मौसम का मिजाज बदल गया। रात करीब 8.30 बजे तेज धूल भरी आंधी चलने लगी। आंधी आते ही पूरे शहर की बिजली आपूर्ति ठप हो गई। शहर में जगह-जगह होर्डिंग टूट गए। कई स्थानों पर बिजली के तार टूट गए। बिजली लाइनों पर पेड़ की टहनियां टूटकर गिर पड़ीं। वहीं, आंधी के कारण तेज हवाएं चलने से लोगों को भीषण गर्मी से कुछ राहत मिली है। तेज हवाएं चलने से लोग घरों से बाहर निकल आए। बिलासपुर गेट, शाहबाद गेट, पहाड़ी गेट, डूंगरपुर, रजा इंटर कालेज, आंबेडकर पार्क, सिविल लाइंस, अजीतपुर समेत पूरे शहर में विद्युतापूर्ति ठप हो गई थी।
स्वार में भी ठप हुई बिजली
स्वार। दिनभर की भीषण गर्मी के बाद रात करीब साढ़े आठ बजे मौसम तब्दील हो गया। धूल भरी आंधी से फड़ और होर्डिंग उखड़ गए। अलबत्ता मौसम बदलने से लोगों को राहत मिली है। शाम सवा आठ बजे आई आंधी से नगर व ग्रामीण क्षेत्र की बिजली आपूर्ति भी ठप हो गई।आशंका है कि ब्रेकडाउन हुआ तो पूरी रात बिजली गायब रहेगी। इस बीच धूल भरी आंधी से होर्डिंग, फ्लैक्सी बोर्ड और पेड़ों की टहनियां टूट गईं या फिर उखड़ गए। मौसम खराब होने के साथ ही बाजार भी जल्दी बंद हो गया।
बिलासपुर और मिलक में भी आई आंधी
मिलक/बिलासपुर। बिलासपुर में भी रात करीब 8.45 बजे आंधी आने से नगर समेत ग्रामीण क्षेत्र की बिजली गुल हो गई है। वहीं, दिनभर भीषण गर्मी के बाद मौसम बदलने से लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली है। नगर में कई जगह होडिंग टूटकर गिर पड़े। पेड़ों के बिजली लाइनों पर गिरने से फिर से विद्युतापूर्ति ठप रहने की आशंका जताई जा रही है। समाचार लिखे जाने तक पूरे क्षेत्र की विद्युतापूर्ति ठप पड़ी थी।
जबकि मिलक में भी रात करीब 8.45 बजे तेज आंधी के साथ बिजली चौपट हो गई। आंधी आने से पहले सुरक्षा की दृष्टि से नगर समेत ग्रामीण क्षेत्र की बिजली सप्लाई बंद कर दी गई थी। वहीं आंधी के कारण दिनभर पड़ी भीषण गर्मी से लोगों को कुछ राहत मिली है।
आंधी आने से पहले ही पूरे जिले की बिजली सुरक्षा की दृष्टि से बंद कर दी गई थी। हवा का प्रकोप कम होने के बाद जब आपूर्ति चालू की जाएगी, तभी फाल्ट का पता लग पाएगा। फिलहाल आंधी रुकने की प्रतिक्षा की जा रही है।
राजीव गर्ग, अधीक्षण अभियंता रामपुर।

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *