खुलासा : प्यार के जाल में फंसाकर दिल्ली से युवती को अगवा किया, फरीदाबाद में हत्या

मध्य दिल्ली के देशबंधु गुप्ता रोड इलाके से 20 वर्षीय युवती की अगवा कर हत्या कर दी गई। युवती का शव 12 दिसंबर को फरीदाबाद के सूरजकुंज स्थित जंगलों से बरामद हुआ। जांच के बाद हत्याकांड की गुत्थी से पर्दा उठ गया। पुलिस ने इस संबंध में फरीदाबाद से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। इसकी पहचान सेक्टर-48, फरीदाबाद निवासी आसिफ (29) के रूप में हुई। 

पहले से दो बार शादीशुदा आसिफ ने युवती को अपने प्रेम जाल में फंसाया। इसके बाद उसे शादी का झांसा देकर सूरजकुंड ले गया। वहां आरोपी ने जंगल ले जाकर पहले उस पर चाकू से हमला किया। इसके बाद चुन्नी से गला घोंटकर युवती की हत्या कर दी गई। पूछताछ के दौरान आरोपी ने युवती की हत्या की बात कबूल कर ली। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर वारदात में इस्तेमाल चाकू, खून से सनी जैकेट और फरीदाबाद के होटल की डीवीआर भी बरामद कर ली है। इस बात का पता लगाने का भी प्रयास किया जा रहा है कि आरोपी ने युवती की हत्या से पहले उसके साथ दुष्कर्म तो नहीं किया था।

मध्य जिला पुलिस उपायुक्त श्वेता चौहान ने बताया कि 10 दिसंबर की रात को देशबंधु गुप्ता रोड थाने में एक महिला ने अपनी बेटी समीरा (20)(बदला हुआ नाम) के गायब होने की शिकायत दर्ज कराई थी। महिला ने बताया कि समीरा पार्क रोड, अजमल खां पार्क के पास एक मकान में घरेलू सहायिका की नौकरी करती थी। घटना वाले दिन वह काम पर गई थी, लेकिन वापस नहीं लौटी। 

पुलिस ने 11 दिसंबर को समीरा की गुमशदुगी दर्ज कर छानबीन शुरू की। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि समीरा काम करके 7.00 बजे निकल गई थी। जांच के बाद पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। इस दौरान 12 दिसंबर को सूरजकुंड के जंगलों में समीरा की लाश बरामद हो गई। उसके गले पर कट के निशान के अलावा गले पर चुन्नी लिपटी थी। सूचना के बाद पुलिस ने शव कब्जे में लिया। परिजनों ने भी समीरा की पहचान कर ली। देशबंधु गुप्ता रोड थाना पुलिस ने अपहरण के अलावा अब हत्या का मामला भी दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी।

ऐसे लगा हत्यारे का सुराग…
पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला कि 9 दिसंबर को समीरा पास की एक केक शॉप पर किसी युवक के साथ मौजूद थी। युवक ने मास्क लगाया हुआ था, जिसकी वजह से उसकी पहचान नहीं हो पा रही थी। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि जिस बिल्डिंग में समीरा काम करती थी, वहां कई अन्य युवक काम करते हैं। इसके अलावा वहां पेंटिंग का भी काम चल रहा था।

पुलिस ने बिल्डिंग में काम करने वाले युवकों से पूछताछ की। जांच के दौरान पुलिस को पता चल गया कि पेंटिंग का काम करने वाला आसिफ वह ही युवक है जो एक दिन पहले समीरा के साथ मौजूद था। जांच करने पर पुलिस ने आसिफ के मोबाइल फोन की सीडीआर भी वहां की मिली जहां समीरा की लाश मिली थी। पुलिस ने सोमवार को उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो आरोपी ने समीरा की हत्या की बात कबूल कर ली।

प्यार के झूठे जाल में फंसाकर बनाना चाहता था युवती से शारीरिक संबंध…
पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह मूलरूप से गांव हल्दीखुर्द, मीरगंज, बरेली का रहने वाला है। उसने दो शादियां की हैं। पहली पत्नी से उसे दो बच्चे हैं। आरोपी पेंटर का काम करता है। पिछले कुछ दिनों से आसिफ करोल बाग के मकान में पेंटिंग का काम ,कर रहा था। यहां उसकी दोस्ती समीरा से हुई। दोनों की गहरी दोस्ती हो गई। काम के बाद दोनों ने बाहर एक-दूसरे से मिलना शुरू कर दिया। आरोपी ने समीरा को नहीं बताया कि वह पहले से शादीशुदा है। वह उससे शारीरिक संबंध बनाना चाहता था। लेकिन समीरा शादी करने की बात करती थी। 10 दिसंबर को आरोपी ने समीरा को शादी करने की बात कर मिलने के लिए कहा। दोनों ईस्ट पार्क रोड पर मिले।

युवती को शादी करने की बात कर फरीदाबाद के होटल में ले गया आरोपी…
आरोपी 10 दिसंबर की रात को ही समीरा को बाइक पर बिठाकर फरीदाबाद के होटल ले गया। वहां उसने अपनी शादी की बात समीरा को बताई। समीरा आसिफ पर खूब भड़की। इस पर आसिफ ने अपनी पत्नी को तलाक देकर उससे शादी की बात की। रातभर दोनों के बीच झगड़ा हुआ। अगले दिन भी ऐसा ही हुआ। आसिफ शादी का इंतजाम करने की बात कर होटल से चला गया। दिन में वह एक रसोई वाले चाकू के साथ पहुंचा।

समीरा शादी न करने की बात कर उसकी पुलिस से शिकायत करने की बात करने लगी। इस बात पर आसिफ बहला-फुसलाकर पीड़िता को पास के जंगल में ले गया। वहां उसने पहले चाकू से गले पर वारकर उसकी हत्या का प्रयास किया। लेकिन चाकू टूट गया। इसके बाद आरोपी ने समीरा की चुन्नी से ही उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी। शव वहीं छोड़कर आरोपी वापस अपने घर आ गया। किसी को शक न हो इसके लिए वह करोलबाग अपने काम पर भी आ गया।

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *