एटा: शिक्षक की पिटाई से क्षुब्ध कक्षा आठ के छात्र ने फांसी लगाकर दी जान, परिवार में कोहराम

गांव के लोगों ने बताया सचिन पढ़ाई में होशियार था। उसे अधिकांश समय पढ़ते ही देखा जाता था। होशियार होने के कारण ही उसके साथ के लड़के उससे पढ़ाई के संबंध में जानकारी करते रहते थे।

एटा: छात्र की फाइल फोटो

एटा जनपद में बागवाला थाना क्षेत्र के गांव कासौन निवासी कक्षा आठ के 12 वर्षीष छात्र ने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। परिजनों का आरोप है कि विद्यालय में शिक्षक के डांटने और पीटने से किशोर क्षुब्ध था। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। पुलिस का कहना है कि तहरीर नहीं मिली है।

कक्षा आठ का था छात्र

गांव कासौन निवासी नरेश ने बृहस्पतिवार को पोस्टमार्टम हाउस पर बताया कि उनका 12 वर्षीय पुत्र सचिन गांव के ही विद्यालय में कक्षा आठ में पढ़ता था। बुधवार को वह सुबह के समय स्कूल गया। वहां किसी बात को लेकर साथियों से मारपीट हो गई। इस पर स्कूल के शिक्षक ने उसे कमरे में बंद कर मारपीट की और बैग बाहर फेंक कर परिजनों को बुलाकर लाने को कहा। इसी बात को लेकर सचिन ने घर आकर दोपहर करीब दो बजे फांसी लगा ली। अन्य बच्चों के घर पहुंचने पर मामले की जानकारी हुई। नरेश ने कहा कि थाने में तहरीर दे दी है।

पल्लेदारी करता है पिता

नरेश ने बताया वह खेतीबाड़ी के साथ पल्लेदारी का कार्य करता है। बुधवार को काम के सिलसिले में एटा आया था। पत्नी संगीता देवी खेत पर गईं थी। जबकि अन्य बच्चे स्कूल से नहीं लौटे थे। इस दौरान ही सचिन को फांसी लगाने का मौका मिल गया।

Source link

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *