इस देश की सरकार का तुगलकी फरमान, फिल्म देखने पर स्टूडेंट को सुनाई 14 साल की सजा

नई दिल्ली: नॉर्थ कोरिया (North Korea) की सरकार अपने अजीबोगरीब रवैये को लेकर हमेशा ही चर्चा में रहती हैं. वहां बनाए गए नियमों का उल्लंघन कोई करता है, तो उसे कड़ी से कड़ी सजा सुनाई जाती है. हाल ही में एक स्कूली बच्चे को सिर्फ फिल्म देखने के लिए ऐसी सजा सुनाई गई, जिसे जानकर किसी के भी होश उड़ जाएंगे.

फिल्म देखने पर मिली सजा
Daily NK की रिपोर्ट के मुताबिक हाइसन सिटी के स्कूल के एक 14 वर्षीय छात्र ने किम ह्योंग-जिन के निर्देशन में बनी फिल्म ‘द अंकल’ (The Uncle) को सिर्फ 5 मिनट देखा था. जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया और उसे फिल्म देखने के जुर्म में 14 साल की सजा सुनाई गई. हालांकि, ऐसा पहली बार नॉर्थ कोरिया (North Korea) में नहीं हुआ है. इससे पहले भी इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं.

पेरेंट्स को भी हो सकती है सजा
रिपोर्ट्स के मुताबिक, एसोसिएशन सिस्टम के तहत स्टूडेंट के पेरेंट्स को भी दंडित किया जा सकता है. बता दें कि एसोसिएशन सिस्टम के तहत अगर देश में संस्कृति से जुड़ा कोई अपराध होता है तो जिम्मेदार पर 200,000 का जुर्माना लगाया जा सकता है. वहीं अगर अपराध करने वाला 5 साल से अधिक और 15 साल से कम उम्र का है तो उसे सुधारात्मक श्रम की सजा दी जाती है.

नॉर्थ कोरिया सरकार की सख्ती
बता दें कि कुछ समय पहले नॉर्थ कोरिया (North Korea) की सरकार ने युवा शिक्षा सुरक्षा अधिनियम पेश किया था, जिसका मकसद युवाओं के वैचारिक प्रशिक्षण को बढ़ावा देना है. इसके अलावा एसोसिएशन सिस्टम भी लागू किया गया. ऐसा माना जाता है कि नॉर्थ कोरिया में युवाओं के बीच दक्षिण कोरियन फिल्में बहुत पॉपुलर हो रही हैं और सरकार नहीं चाहती है कि वहां के लोग दक्षिण कोरियन फिल्मों को देखें. इससे निपटने के लिए उत्तर कोरिया की सरकार भरसक प्रयास कर रही है और इसे ध्यान में रखते हुए सरकार कानून को सख्ती से लागू कर रही है.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *